Olympic से लेकर कॉमनवेल्थ गेम्स तक पीवी सिंधु का जलवा रहा है बरकरार, देखिए आकड़े दे रहे हैं गवाही

By Sameeksha dixit On August 13th, 2022
Olympic से लेकर कॉमनवेल्थ गेम्स तक पीवी सिंधु का जलवा रहा है बरकरार, देखिए आकड़े दे रहे हैं गवाही

ओलंपिक टूर्नामेंट में 2 बार पदक जीत चुकीं भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला सिंगल्स का गोल्ड मेडल हासिल कर लिया है. फाइनल में कनाडा की मिशेल ली को 21-15, 21-13 से उन्होंने मात दी हें. मिशेल ने 2014 में ग्लास्गो में खेले गए कॉमनवेल्थ गेम्स में पीवी सिंधु को सेमीफाइनल में हराया था.

पीवी सिंधु फिर छा गई

स्टार शटलर और 2 बार की ओलंपिक मेडलिस्ट पीवी सिंधु कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games-2022) अब चैंपियन बन चूकी हैं. उन्होंने सोमवार को महिला सिंगल्स के फाइनल मैच में कनाडा की मिशेल ली को लगातार गेमों में धुल चटाई हैं. सिंधु ने 21-15, 21-13 से मुकाबला जीतकर देश की झोली गोल्ड मेडल से भर दी हें, उन्हें फाइनल मैच में विजयी होने में 48 मिनट का समय लगा.

भारत को दिलाए हैं कई मेडल

साथ ही 27 साल की पीवी सिंधु ने कनाडाई की खिलाड़ी ली से 8 साल पुराना बदला भी ले लिया हें. मिशेल ली वही शटलर हैं जिन्होंने साल 2014 के कॉमनवेल्थ गेम्स में पीवी सिंधु को सेमीफाइनल में हराया था. हालांकि उन खेलों में सिंधु को ब्रॉन्ज मेडल मिला था.

भारत की इस स्टार शटलर ने पदक का रंग भी बदल दिया हें. पिछले कॉमनवेल्थ गेम्स की बात करें तो उन्होंने पिछली बार सिल्वर मेडल हासिल किया था, पीवी का यह कॉमनवेल्थ गेम्स में ओवरऑल 5वां पदक है. उन्होंने गोल्ड कोस्ट-2018 गेम्स में मिक्स्ड टीम का गोल्ड जीता था, और सिंगल्स में उन्हें सिल्वर मिला था.

वर्ल्ड चैंपियनशिप-2019 की गोल्ड मेडलिस्ट सिंधु ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार का प्रदर्शन किया. उन्होंने सेमीफाइनल में सिंगापुर खिलाड़ी जिया मिन को लगातार गेमों में मात दी थी. सिंधु ने जिया के खिलाफ 21-19, 21-17 से शानदार जीत दर्ज की थी.

read more: भारतीय टीम के ये 3 तेज गेंदबाज Jasprit Bumrah से भी ज्यादा करते थे तेज गेंदबाजी, लेकिन वक्त से पहले खत्म हो गया करियर

Tags: टोक्यो ओलंपिक, पीवी सिंधु,